सीएम मोहन यादव के आते ही पुलिस कर्मियों की लगी लॉटरी, जल्द मिलेगी बड़ी खुशखबरी

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री मोहन यादव ने पुलिस विभाग को लेकर एक नया निर्देश जारी कर दिया है जिसे सुनकर सभी पुलिस कर्मी काफी ज्यादा खुश होंगे क्योंकि पिछले 1 साल से पुलिस कर्मियों के लिए कोई कोई खास योजना नहीं बनाई जा रही थी साथ ही हजारों पुलिस कर्मी लगातार  से उम्मीद लगाए बैठे हैं ऐसे में मध्यप्रदेश में नए मुख्यमंत्री बनने पर अब पुलिस कर्मियों को जल्द ख़ुशख़बरी मिल सकती है। 

बता दें कि मध्य प्रदेश में ऐसे हजारों पुलिसकर्मी हैं, जिनके प्रमोशन कई वर्षों से रुके हुए हैं जिसकी वजह से लगतार ये अधिकारी सरकार से अपने प्रमोशन के लिए गुहार लगा रहे थे परन्तु चुनाव के चलते ये नहीं हो रहा था और अब नए मुख्यमंत्री के आते ही पुलिस कर्मचारियों को कंधे में स्टार बढ़ाने की पूरी उम्मीद नजर आने लगी है आने वाले एक-दो दिन में ही पुलिस मुख्यालय अपने पुलिसकर्मियों के प्रमोशन की सूची जारी कर सकता है। आपको बता दें कि पिछली सरकार में पुलिसकर्मियों को कार्यवाहक का पद देते हुए प्रमोशन दिए गए थे, लेकिन बीच में ही ये प्रक्रिया रोक दी गई थी। 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने पुलिस विभाग के मुखिया पुलिस महानिदेशक जीपी सुधीर सक्सेना को कैबिनेट बैठक के दौरान निर्देशित किया है कि पुलिस विभाग के लंबित प्रमोशन के आदेश बिना देरी के जारी करें इस बैठक में सभी जिलों के कलेक्टर और एसपी पुलिस अधीक्षक भी मौजूद थे।

मध्यप्रदेश में इन योजनाओं पर लगी रोक 

मध्यप्रदेश में राजकीय कोष खजाना खली के होने चलते इन योजनाओं पर रोक लगा दी गई है जैसे – तीर्थ दर्शन योजना, प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को लेपटाप प्रदाय, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के नए आईटी पार्क की स्थापना, थानों के सुदृढ़ीकरण, उच्च शिक्षा विभाग की योजना, परिवहन विभाग की ग्रामीण परिवहन नीति के क्रियान्वयन, ग्रामीण विकास विभाग की पीएम सड़क योजना में निर्मित सड़कों का नवीनीकरण, खेल विभाग के खेलो इंडिया एमपी, सहकारिता विभाग की मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना जैसी खास योजनाओं पर फ़िलहाल राजकीय कोष नहीं भेजा जायगा। 

इसे भी पढ़ें –  मध्यप्रदेश नए सीएम मोहन यादव की 5 सबसे बड़ी घोषणाएं, लाड़ली बहनों को मिलेगा बड़ा लाभ

Author

Leave a Comment