पीएम उज्ज्वला योजना: गैस सिलेंडर धारकों के लिए e-KYC जरुरी, बिना e-KYC नही मिलेगी सब्सिडी

अब घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की बढ़ती कीमतों से महिलाओं को राहत दिलाने के लिए सरकार गैस सिलेंडर पर सब्सिडी दे रही है। इसके लिए अब एलपीजी उपभोक्ताओं के लिए रसोई गैस पर सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए e-KYC प्रक्रिया को पूरा करना अति आवश्यक हो गया है। इसलिए, जो एलपीजी उपभोक्ता अभी वर्तमान में गैस सिलेंडर पर सब्सिडी का लाभ उठा रहे हैं और उन्होंने अभी तक e-KYC प्रक्रिया पूरी नहीं की है, तो वह गैस सिलेंडर पर सरकारी सब्सिडी नहीं ले सकते। इसलिए एलपीजी उपभोक्ताओं को तुरंत e-KYC प्रक्रिया पूरी कर लेनी चाहिए। सरकार ने इसके लिए समय सीमा भी तय कर दी है।

रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी के लिए e-KYC पूरा करने की समय सीमा 31 दिसंबर 2023 है। इस लिए सभी लाभार्तियों को जल्द से जल्द यह जरुर करना होगा। अगर किसी लाभार्थी महिला द्वारा eKYC प्रक्रिया पूर्ण नहीं की जाती है तो भविष्य में गैस सिलेंडर सब्सिडी का लाभ महिला को नहीं मिल पाएगा। इस लिए निर्धारित समय सीमा पर यह जरुर करा लें।

e-KYC प्रक्रिया क्यों है जरूरी

जिन परिवारों की महिलाओं को प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत सब्सिडी का लाभ मिल रहा है, उन्हें ईकेवाईसी करना जरूरी होगा। e-KYC की प्रक्रिया को बायोमैट्रिक के माध्यम पूरा किया जाएगा। इसलिए उज्जवला योजना के तहत रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी प्राप्त करने वाली महिला ईकेवाईसी की प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करें। वरना उन्हें इसके लाभ से वंचित रहना पड़ सकता है।

गैस सिलेंडर सब्सिडी के लिए ऐसे करें e-KYC

गैस सिलेंडर पर सब्सिडी के लिए ईकेवाईसी की प्रक्रिया बायोमेट्रिक तरीके से की जाएगी। आपको e-KYC से संबंधित दस्तावेजों को लेकर जिस कंपनी का सिलेंडर है, उसके पास जाना होगा। गैस एजेंसी पर बायोमेट्रिक मशीन पर आपके अंगूठे की छाप का मिलान किया जाएगा। आधार कार्ड के नंबरों से मिलान करने के बाद ही आपको अंगूठा लगाना होगा। इस तरह आधार कार्ड और बायोमेट्रिक मशीन के माध्यम से e-KYC की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

घरेलू रसोई गैस सिलेंडर पर कितनी मिलेगी सब्सिडी

पीएम उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत लाभार्थियों को 300 रुपये की सब्सिडी दी जाती है। पहले इस योजना के तहत महिला लाभार्थियों को 200 रुपये की सब्सिडी दी जाती थी। अक्टूबर में हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी 100 रुपये बढ़ा दी गई थी।

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार द्वारा 1 मई 2016 को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरुआत की गई थी। यह पहल गरीब परिवारों को सब्सिडी वाली रसोई गैस प्रदान करती है, जिससे उन्हें खाना पकाने के लिए सस्ती कीमतों पर गैस सिलेंडर प्राप्त करने में मदद मिलती है। योजना का लक्ष्य 2019 तक 5 करोड़ गरीबी रेखा से नीचे की महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन प्रदान करना था, इस योजना के तहत अब 2023-24 के दौरान 75 लाख नए कनेक्शन जारी करने का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों के लिए समान लाभ होगा।

यह भी पढ़ें – लाडली बहना योजना आवेदन फॉर्म हो रहे रिजेक्ट, इन महिलाओं के खाते में नहीं आई सातवीं किस्त की राशि

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • महिला काआधार कार्ड
  • महिला का राशन कार्ड
  • महिला का आय प्रमाण पत्र
  • महिला का बैंक खाता नंबर
  • महिला की पासपोर्ट साइज फोटो

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में आवेदन कैसे करें

  • प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का लाभ महिलाओं को दिया जाता है।
  • परिवार की महिला मुखिया इसके लिए आवेदन कर सकती हैं।
  • योजना के तहत दी गई पात्रता और शर्तों को पूरा करना जरूरी होगा।
  • यदि आप पात्रता रखते हैं तो आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदन करने के लिए पीएम उज्जवला योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://www.pmuy.gov.in/ पर जा सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ गरीब महिलाओं, एसटी, एससी व पिछड़ा वर्ग के परिवारों को दिया जाता है।
  • योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन दिया जाता है और पहली बार सिलेंडर मुफ्त में रिफिल करवाया जाता है।
  • इसके बाद हर माह सिलेंडर पर सरकार की ओर से सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाता है।

यह भी पढ़ें – मध्यप्रदेश सरकार कर्मचारियों को देगी उपहार, महंगाई भत्ते में होगी इतने प्रतिशत की वृद्धि

Author

  • Princi

    My name is Princi, I love writing on news, trending topics, and schemes. Thanks for reading the article written by me

Leave a Comment