बेटी की पढ़ाई से लेकर उसकी शादी तक की चिंता होगी दूर, सरकार की योजनाओं से मिलेंगे 64 लाख रुपये

ऐसा अक्सर होता है जब परिवार में बेटी के जन्म लेने से माता पिता के मन में कई प्रकार की चिंता घर बनाने लगती है। बेटी को अच्छी शिक्षा प्रदान करवाने से लेकर उसकी शादी तक की जिम्मेदारियां माता पिता को जिंदगी भर परेशान करती हैं उनकी इस परेशानियों का समाधान भी अब भारत सरकार ने कर दिया है। दरअसल भारत सरकार द्वारा चलायी गयी है योजना आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकती है। 

भारत सरकार द्वारा चलाई गई सुकन्या समृद्धि योजना के तहत आप अपनी बेटी का भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना एक छोटी बचत योजना है भारत सरकार की इस योजना में निवेश करके इसका लाभ उठाने की प्रक्रिया बहुत आसान है। इस योजना में निवेश करने पर 8 फिसदी ब्याज दर दिया जाता है। सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए आपकी बेटी की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए। 

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना 

सुकन्या समृद्धि योजना भारत सरकार द्वारा चलाई गई बेटी कल्याण के लिए एक छोटी बचत योजना है जिसकी शुरूआत 8 वर्ष पहले साल 2015 में भारत सरकार द्वारा ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत की गयी थी। इस योजना के अंतर्गत कन्या का खाता माता-पिता या अभिभावक द्वारा खोला जाता है। खाता खुलवाने के लिए कन्या की अधिकतम आयु सीमा 10 वर्ष होनी चाहिए। इसमें 15 साल तक पैसा जमा करना होता है साथ ही इसमें निवेश के तहत टैक्स में छूट का लाभ मिलता है। 

आसानी से खुलवा सकते हैं खाता 

 सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाना बहुत सरल है। कन्या की 10 वर्ष से काम की आयु में ही इस खाते को खुलवाना होता है और क्योंकि बेटी 18 साल से कम आय की है तो नाबालिग की कैटेगरी में आने पर उसका खाता, माता-पिता या अभिभावक के नाम पर खोला जाता है इसमें आप मात्र ₹250 से भी खाता खुलवा सकते हैं। आप ₹250 से 1.5 लाख तक जमा करके योजना का लाभ उठा सकते हैं। 

कितना करना होगा निवेश

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत निवेश करने पर आपको टैक्स पर छूट मिलती है इसमें आपको प्रतिमाह 1250 रुपये निवेश करने होते हैं जिसका अगर हिसाब लगाया जाए तो आपके सालाना 1.5 लाख रुपए बनते है आपको यह निवेश राशि योजना आरंभ होने से लेकर 15 वर्षों तक जमा करनी होगी जो 15 साल बाद 22,50,000/- की बड़ी रकम होगी।  

इसे भी पढ़ें – लाडली बहना आवास योजना के तहत पहली किस्त 25000 रुपये, तारिख जारी सिर्फ इन्हीं महिलाओं को मिलेगा लाभ

21 साल में मैच्योर होगी यह स्कीम 

जैसा कि आपको हमने बताया है इस स्कीम में हर महीने 1250 रुपये का निवेश करना रहता है। सुकन्या समृद्धि योजना की मैच्योरिटी आयु 21 साल है लेकिन आपको सिर्फ 15 साल तक निवेश करना होगा बाकी 6 साल तक का रिटर्न आपको बिना निवेश किये मिलेगा। आपके द्वारा निवेश की गई राशि 22,50,000 जिस पर 7.6% ब्याज दर प्राप्त होगा जो 41,29,634 होगी। 21 साल बाद अपनी मैच्योरिटी पर ये रकम 64 लाख तक पहुंच जाएगी। 

Author

Leave a Comment