मोहन यादव ने की आहार अनुदान योजना के तहत महिलाओं को 29.4 करोड़ की राशि ट्रांसफर 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव शनिवार 13 जनवरी को मध्य प्रदेश के शहडोल जिले में आयोजित एक जनसभा में सम्मिलित होने पहुंचे। जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने मिलेट्स का उत्पादन करने वाले किसानों के लिए एक बड़ी घोषणा की है। CM मोहन यादव ने आयोजित कार्यक्रम में रानी दुर्गावतीअन्न प्रोत्साहन योजना के तहत मोटे अनाज के उत्पादन करने वाले भाई- बहनों को ₹10 प्रति किलो अनाज की प्रोत्साहन राशि राज्य सरकार की तरफ से उपलब्ध कराई जाएगी। 

CM डॉ मोहन यादव ने शहडोल जिले में आयोजित जनसभा में आहार अनुदान योजना के तहत 1.94 जनजातिये बहनों को पौष्टिक आहार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 29.4 करोड रुपए की राशि का अंतरण किया, इसके अलावा मुख्यमंत्री मोहन यादव के भोलेनाथ और कंकाली माता को हाथ जोड़कर आशीर्वाद लिया और जिले में महाविद्यालय बनाने की बात कही। 

जनजातिये महिलाओं के पोष्टीक आहार के लिए 29.4 करोड रुपए ट्रांसफर  

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने शनिवार 13 जनवरी को शहडोल जिले में आयोजित एक दिन सभा में अपनी उपस्थिति। जनसभा में सहकारिता करते हुए उन्होंने आहार अनुदान योजना के तहत 1.94 करोड़ जनजातिये महिलाओं को पौष्टिक और उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 29.4 करोड रुपए की राशि ट्रांसफर की, जिसका लाभ सीधे तौर पर जनजातिये वर्ग की महिलाओं को मिलेगा। 

भोलेनाथ और माता कंकाली को किया नमन  

मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव की अध्यक्षता में आयोजित जनसभा में कम यादव ने जनसभा को संशोधित किया और भोलेनाथ तथा माता कंकाली को नमन करते हुए CM मोहन यादव ने कहा की “मैं कलचुरी कालीन विराटेश्वर भोलेनाथ और कंकाली माता को दोनों हाथ जोड़कर प्रणाम करता हूं”। इसके साथ ही उन्होंने कहा “शहडोल का पूरा क्षेत्र महाभारत कालीन विराट नगरी का क्षेत्र है, यहां पांडवों ने भी अपना समय गुजारा था”। 

जिले में महाविद्यालय खोलने की घोषणा 

जिले के विकास और नई शिक्षा नीति को बढ़ावा देते हुए CM डॉ मोहन यादव ने प्रसन्नता के साथ कहा कि मुझे गर्व है कि नयी शिक्षा नीति की शुरुआत करने वाला पहला राज्य मध्य प्रदेश है, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यदि राज्य में सबसे तेजी से विकास करने वाला कोई क्षेत्र होगा तो वह शहडोल होगा, हम इसको विकास की ऊंचाइयों तक ले जाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। शहडोल में वर्तमान में कई महाविद्यालय पर बावजूद उनके उन्होंने एक और महाविद्यालय खोलने की घोषणा की। 

इसे भी पढ़ें –  एक छात्र एक लैपटॉप योजना 2023 ये हैं योजना की पात्रता सहित जरूरी दस्तावेज़ 

Author

Leave a Comment